Friday, August 2, 2013

परछाईयों से उपजी रूहें










एक तरलता जो किसी भी आकार में ढ़ल सकती है।
बहुध्वनियों से बना मैं।
मैं और हम के बीच बहुतायत।

राकेश